बुद्धि के देवता बुध ग्रह का दिन है बुधवार। बुध राशि के जातक बहुत सुंदर होते हैं। बुध को नवग्रहों में राजकुमार की उपाधि प्राप्त है। उनका शरीर अति सुंदर और छरहरा है। वह ऊंचे कद गोरे रंग के हैं। उनके सुंदर बाल आकर्षक हैं वह मधुरभाषी हैं।

बुध, बुद्धि, वाणी, अभिव्यक्ति, शिक्षा, शिक्षण, गणित, तर्क, यांत्रिकी ज्योतिष, लेखाकार, आयुर्वेदिक ज्ञान, लेखन, प्रकाशन, नृत्य-नाटक और निजी व्यवसाय का कारक है। जिस व्यक्ति का बुध ग्रह मजबूत स्थिति में होता है वह अत्यंत प्रभावशाली व्यक्तित्व का मालिक होता है। उसकी वाणी से निकली बात भी खाली नहीं जाती।बुध राशि के जातक अंवेषक और कल्पनाशील होते हैं। बुध से प्रभावित जातक हंसमुख, काव्य, संगीत और खेल
बुद्धि के देवता बुध ग्रह के बारे मे विशेष बातें


में रुचि रखने वाले, शिक्षित, लेखन प्रतिभावान, गणितज्ञ, वाणिज्य में पटु और व्यापारी होते हैं। बधुआ वाचाल और अच्छे वक्ता होते हैं। बुध राशि के जातकों के लिए सेल्समैन और मार्केटिंग में अच्छे अवसर बनते हैं।
नवग्रह में इनकी पूजा ईशान कोण में की जाती है। इनका प्रतीक बाण तथा रंग हरा है।

महाभारत की एक कथा के अनुसार इनकी विद्या-बुद्धि से प्रभावित होकर महाराज मनु ने अपनी गुणवती कन्या इला का इनके साथ विवाह कर दिया। इला और बुध के संयोग से महाराज पुरूरवा की उत्पत्ति हुई। इस तरह चन्द्रवंश का विस्तार होता चला गया।

श्रीमद्भागवत के अनुसार बुद्ध ग्रह की स्थिति शुक्र से दो लाख योजन ऊपर है। बुध ग्रह प्राय: मंगल ही करते हैं, किंतु जब ये सूर्य की गति का उल्लंघन करते हैं, तब आँधी-पानी और सूखे का भय प्राप्त होता है।
Axact

न्यूज़ टेक कैफ़े

यहां पर हम हिंदी में टी वी की नई जानकारियां उपलब्ध कराते हैं। कृपया हमारे ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।ादा से ज्यादा शेयर करें

Post A Comment:

0 comments: