चाय एवं कॉफी संदेश संसार में पनपने वाले मादक पदार्थ हैं सभी जगह तने और नशीली चीजों की तरह इन्हें भी अपना लिया है इनके प्रयोग से शरीर से निकलने वाले कार्बोनिक एसिड का परिणाम भर जाता है वास्तव में यह दोनों जीवनी शक्ति का पतन करते हैं प्रथम हनी पाचन शक्ति का हास है


बदहजमी भूख की कमी अपच में चाय बड़ी सहायक होती है सर विलियम रॉबर्ट लिखते हैं "थोड़ी मात्रा में भी चाय और कॉफी का सेवन करने से हमारे शरीर के पाचन 10 कमजोर हो जाते हैं जिससे अन्य के पोस्टिक तत्व के तत्वों को हमारा शरीर नहीं खींच सकता दूसरे शब्दों में यही अग्निमांद्य अजीर्ण होता ह दांतों के रोग में वृद्धि का कारण गरम-गरम चाय का व्यवहार ही है गर्म पानी लगने से दांतों की जड़ें निर्मल पड़ जाती है देखने में दांत काले मैले गंदगी से भरे हुए दिखाई देने लगते हैं चाय क्षणिक उत्तेजना देती है उत्तेजना समाप्त होने के पश्चात मनुष्य को स्वभाविक शक्ति कम मालूम होने लगती है "

मस्तिष्क में रक्त का संचालन अधिक हो जाने से उसमें नई स्फूर्ति से याद आती है चाय या कॉफी पीने वालों को कोई ना कोई उत्तेजना अवश्य चाहिए बिना उत्तेजना के लिए कोई भी कार्य संपन्न नहीं कर सकते चाय से सर में दर्द बना रहता है लोगों में यह भ्रांति मूल अवधारणा बैठ गई है कि चाय से भोजन हजम हो जाता है वास्तव में ऐसे उल्टे पाचनक्रिया में व्यवधान उपस्थित हो जाता है दिल की धड़कन की शिकायत बढ़ जाती है और अन्य बाहरी रहते हैं अनेक गणमान्य चिकित्सकों का कथन है कि चाय और कॉफी हृदय के कार्य को बड़ा ज्योति है मैं बड़ों को बहुत अधिक कार्बोलिक एसिड गैस बाहर निकालना पड़ता है


शरीर में उषणता चिंता हो जाती है तथा गुर्दों के कार्य में अभिवृद्धि हो जाती है यदि चाय तथा कॉफी में गहराई का अंश बहुत अधिक रहता है तो मनुष्य का जीवन चलाता है बहुत चक्कर आते हैं और अंत में मनुष्य बेहोश हो जाता है अधिक तेज काली-काली कहरा इन व्हिच से भरी हुई चाय से मनुष्य मर भी सकता है चाय में दो प्रकार के विषैले पदार्थ होते हैं
Is Drinking Tea  good for Health ? क्या चाय पीना सेहत के लिए नुकसानदायक है?
Is Drinking Tea  good for Health ? क्या चाय पीना सेहत के लिए नुकसानदायक है?

TENIN or  कहवाइन

चाय पीते समय हम जो कसैला कसैला स्वाद अनुभव करते हैं वह टाइमिंग हैं तथा शरीर के लिए हानिकारक है यह चमड़े का तनाव बढ़ा देता है जब यह मानव शरीर के भीतर प्रविष्ट होता है तो आमाशय की बिजली को अनुचित तनाव की स्थिति में ला देता है इसमें आमाशय में भोजन का परिपाक सहज में नहीं होता ना इसका पोस्ट अंजलि कर सकती है गहराई एक प्रकार का उत्तेजक है जो मस्तिष्क को उत्तेजित करता है चाहे कापर बिना मैं कुछ भी टाइम जैसा ही दूषित है


शारीरिक खाने के विचार से शराब और चाय एक ही प्रकार के हैं अंतर महंगी और सस्ती का है शराब मदहोश बनाकर अल्पकाल के लिए दुख करती है किंतु चाय उत्तेजना देती और नींद भर्ती है अमूल्य जीवन तथा शरीर के स्वास्थ्य को नष्ट करने में यह शराब से कम नहीं है क्योंकि हर चीज सस्ती है और इसका प्रचार स्थान स्थान पर है सुविधा नष्ट हो जाती है तथा चाय के अतिरिक्त और किसी प्रकार की इच्छा नहीं रह जाती हे दे की गति मैदान पर जाती है इसके बिना मन खिन्न चिड़चिड़ा और मस्तिष्क कार्य सहित सा रहता है
Axact

न्यूज़ टेक कैफ़े

यहां पर हम हिंदी में टी वी की नई जानकारियां उपलब्ध कराते हैं। कृपया हमारे ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।ादा से ज्यादा शेयर करें

Post A Comment:

0 comments: