प्र.1.10 नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढि़ए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए। कुछ शब्दों को रेखांकित किया गया है, जिससे आपको कुछ प्रश्नों के उत्तर देने में सहायता मिलेगी। दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त का चयन कीजिए।
कानून की डिग्री प्राप्त करने के बाद मेरे पिता सियालकोट लौट आए। मेरी आरंभिक शिक्षा मुहल्ले की एक मस्जिद में हुई। शहर में दो स्कूल थे एक स्कॉच मिशन का और दूसरा अमेरिकी मिशन की निगरानी में चलता था। मैंने स्कॉच मिशन स्कूल में प्रवेश ले लिया। यह हमारे घर से नजदीक था। यह जमाना जबरदस्त राजनीतिक उथल-पुथल का था। प्रथम विश्वयुद्ध समाप्त हो चुका था और भारत में कई राष्ट्रीय आंदोलन आकर्षण के केंद्र बन रहे थे। कांग्रेस के आंदोलन में हिंदू और मुसलमान दोनों ही कौमें हिस्सा ले रही थीं लेकिन इस आंदोलन में हिन्दुओं की बहुलता थी। दूसरी ओर मुसलमानों की तरफ से चलाया जाने वाला खिलाफत आंदोलन था।
Hindi Language For IBPS RRBs-CWE-IV 2015 Exam Preparation
Hindi Language For IBPS RRBs-CWE-IV 2015 Exam Preparation
 प्रथम विश्वयुद्ध की समाप्ति पर परिदृश्य यह था कि तुर्क कौम ब्रितानी और यूनानी आक्रांताओं के विरूद्ध पंक्तिबद्ध थी परंतु उस्मान वंशीय खिलाफत को बचाया नहीं जा सका और तुर्की अंततः कमाल अतातुर्क के क्रांतिकारी विचारों के प्रभाव में आ गया जिन्हें आधुनिक तुर्की का निर्माता कहा जाता है। एक तीसरा आंदोलन सिक्खों का अकाली आंदोलन था जो सिक्खों के सभी गुरूद्वारों को अपने अधीन लेने के लिए आंदोलन था। इस प्रकार छः-सात साल तक हिन्दू, मुस्लिम ओर सिक्ख तीनों ही अंग्रेज के विरूद्ध एक साझे एजेंडे के तहत आंदोलन चलाते रहे।
हमारे छोटे से शहर सियालकोट में जब भी महात्मा गांधी, मोतीलाल नेहरू और सिक्खों के नेता आते थे तो पूरा शहर सजाया जाता, बडे़-बड़े स्वागत द्वार फूलों से बनाए जाते थे और पूरा शहर उन नेताओं के स्वागत में उमड़ पड़ता था। राजनीतिक गहमागहमी का यह दौर हमारे मन पर अपने प्रभाव छोड़ने का कारण बना।
इसी दौरान रूस में अक्टूबर क्रांति घटित हो चुकी थी और उसका समाचार सियालकोट तक भी पहुंच रहा था। मैंने लोगों को कहते हुए सुना कि रूस में लेनिन नाम के एक व्यक्ति ने वहां के बादशाह का तख्ता उलट दिया है और सारी संपत्ति श्रमजीवियों में बांट दी है।
प्र.1. गद्यांश के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है ?
(1) कांग्रेस के आंदोलन में केवल हिंदू भाग ले रहे थे। 
(2) विश्व युद्ध जारी था।
(3) जमाना जबरदस्त राजनीतिक उथल-पुथल का था।
(4) कांग्रेस के आंदोलन में केवल मुसलमान भाग ले रहे थे।
(5) इनमें से कोई नहीं
प्र.2. लेखक के घर के करीब कौन-सा स्कूल था ?
(1) अमेरिकी मिशन का (2) कोई स्कूल नहीं था (3) स्कॉच मिशन का  (4) (1) और (3) दोनों 
(5) इनमें से कोई नहीं
प्र.3. शहर के स्कूल किसकी निगरानी में चलते थे ?
(1) केवल स्कॉच मिशन (2) स्कॉच मिशन और अमेरिकी मिशन (3) यूरोपीय मिशन (4) केवल अमेरिकी मिशन (5) इनमें से कोई नहीं
प्र.4. लेखक ने आरंभिक शिक्षा कहां पायी थी-
(1) मदरसे में (2) घर पर (3) गांव में (4) मस्जि़द में (5) इनमें से कोई नहीं
प्र.5. ‘खिलाफत‘ आंदोलन कौन चला रहा था ?
(1) ऐसा कोई आंदोलन नहीं था (2) हिंदू (3) मुसलमान और हिंदू दोनों मिलकर (4) मुसलमान 
(5) इनमें से कोई नहीं
प्र.6. लेखक के पिता सियालकोट कब लौटे थे ?
(1) तबादला होने पर (2) नयी नौकरी मिलने पर (3) उनके पिता द्वारा बुलाए जाने पर (4) कानून की डिग्री पाने से पहले (5) कानून की डिग्री पाने के बाद
प्र.157. पूरा सियालकोट किसके स्वागत में उमड़ पड़ा था ?
(1) केवल महात्मा गांधी के (2) केवल मोतीलाल नेहरू के (3) सिक्ख नेताओं के  (4) उपर्युक्त (1), (2) और (3) (5) इनमें से कोई नहीं
प्र.8. गद्यांश में प्रयुक्त शब्द ‘अधीन‘ का अर्थ निम्नलिखित में से क्या है ?
(1) मातहत (2) आश्रित (3) वशवर्ती  (4) उपर्युक्त (1), (2) और (3) (5) इनमें से कोई नहीं
प्र.9. अकाली आंदोलन क्यों चलाया जा रहा था ?
(1) अलग राज्य के लिए 
(2) सिक्खों के विकास के लिए 
(3) अलग देश बनाने के लिए 
(4) सभी गुरूद्वारों को अपने अधीन लेने के लिए
(5) इनमें से कोई नहीं
प्र.10. गद्यांश में प्रयुक्त शब्द ‘कानून‘ का अर्थ निम्नलिखित में से क्या है ?
(1) विधि (2) अनुदेश (3) अनिवार्य (4) सांविधिक (5) शर्त
उत्तर
प्र.1.(3) प्र.2.(3) प्र.3.(2) प्र.4.(4) प्र.5.(4) प्र.6.(5) प्र.7.(4) प्र.8.(4) प्र.9.(4) प्र.10.(1)
Axact

न्यूज़ टेक कैफ़े

यहां पर हम हिंदी में टी वी की नई जानकारियां उपलब्ध कराते हैं। कृपया हमारे ब्लॉग को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।ादा से ज्यादा शेयर करें

Post A Comment:

0 comments: